Breaking

Wednesday, July 31, 2019

Network marketing क्या है।

जानिए network marketing क्या है।What is multi level marketing Business






Hello दोस्तों स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से हमारी वेबसाइट पर आज के इस लेख में हम आपको network marketing क्या है। के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले हैं। अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग बिजनेस को लेकर कंफ्यूज है तो इस लेख में अंत तक बने रहे आपको पूरी जानकारी दी जाएगी।
नेटवर्क मार्केटिंग को डायरेक्ट सेलिंग, मल्टी लेवल मार्केटिंग, चैन पिरामिड आदि नामों से भी जाना जाता है। कई लोगो के मन में नेटवर्क मार्केटिंग के प्रति गलत अवधारणा होती हैं। तो आज में इस आर्टिकल में आपके सारे कंफ्यूज दूर होने वाले हैं। आपको इस आर्टिकल में सारे सवालों के जवाब मिल जाएगा जो आपके मन में चल रहा है। तो सबसे पहले हम जानते हैं नेटवर्क मार्केटिंग क्या है।
How to become good seles Man in Hindi

How to find passion in Hindi

सफलता के सूत्र।

समय का सही उपयोग करने के 5 टिप्स।


Network marketing क्या है।


नेटवर्क marketing क्या है।

नेटवर्क मार्केटिंग ग्राहकों के लिए स्वरोजगार है। 
नेटवर्क मार्केटिंग एक ऐसा बिजनेस है, जिसने कोई भी डायरेक्ट सेलिंग कंपनी सीधे ग्राहक को अपने से जोड़ती है। इसी कंपनिया अपने प्रोडक्ट को ग्राहक को बेचती है। Network मार्केटिंग को डायरेक्ट मार्केटिंग भी कहा जाता है। नेटवर्क मार्केटिंग के किसी कंपनी के प्रोडक्ट को आदमी पर्मोट करता है। जिसका लाभ उसको भी होता है। यह कंपनी से सीधे ग्राहक तक प्रॉडक्ट पहुंचाने का माध्यम है। यहां पर बीच का माध्यम खतम कर दिया जाता है। जैसे__ रिटेलर, हॉल सेलर, एजेंट, डिस्ट्रिक डीलर, टीवी एड्स, आदि को हटा दिया जाता है। मल्टी लेवल मार्केटिंग एक ऐसी इंडस्ट्री है जो दुनिया में सबसे ज्यादा कम समय में कई करोड़ पति तयार कर सकती हैं। 

Network marketing केसे काम करती है।

नेटवर्क मार्केटिंग में आप किसी प्रॉडक्ट को खरीदते हैं तो उसका प्रोफिट आपको भी मिलता है। साथ ही साथ आप किसी आदमी को उस कंपनी के प्रोडक्ट के बारे में बताते हैं और वह आदमी ज्वाइन होकर कोई प्रॉडक्ट खरीदता है तो उसका भी बेनिफिट आपको भी मिलता है। वैसे ही अगर वह आदमी भी अगले तीसरे आदमी को अपने प्लान ओर प्रॉडक्ट को बताता है और वह भी प्रॉडक्ट खरीदता है तो उसका भी बेनिफिट आपको मिलता है। इस तरह से नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का प्लान काम करता है। इसमें आपकी एक टीम बन जाती है। मल्टी लेवल मार्केटिंग में हमें कंपाउड रिजल्ट मिलता है। जैसे में आपको एक उदाहरण देकर समझता हूं।
आपने एक आम का पेड़ लगाया उसे तीन से चार साल तक पानी दिया हो सकता है आपको तीन साल तक कुछ नहीं। लेकिन वह आम अच्छी तरह से लग गया है तो अगले दो सौ साल तक आम देता रहेगा बीना मेहनत के। ठीक उसी प्रकार मल्टी लेवल मार्केटिंग में हो सकता है आपको पहले कुछ समय तक कुछ नहीं मिले लेकिन आपकी एक बार टीम बनने के बाद पीढ़ी दर पीढ़ी इनकम होती रहेगी। 
नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता प्राप्त करने के लिए इस आर्टिकल को जरूर पड़े।

नेटवर्क मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है।

आपने जान लिया कि network marketing क्या है।

अब हम जानेंगे नेटवर्क मार्केटिंग कितने प्रकार की होती है। नेटवर्क मार्केटिंग चार प्रकार की होती है। 

1. Company or producer direct selling

इस प्रकार की कंपनी को डायरेक्ट सेलिंग भी कहते हैं। यहां पर खुद कंपनी अपने प्रोडक्ट को बनाती हैं। ओर अपना प्रॉडक्ट सीधे ग्राहक को सेल करती हैं। इसमें कंपनी अपना स्टोर खोलती है या फिर अपनी वेबसाइट डिजाइन करती हैं। ओर उस वेबसाइट या स्टोर से सीधे ग्राहक तक प्रॉडक्ट ओर सर्विसेस पहुंचाती है। उसे प्रोड्यूसर डायरेक्ट सेलिंग कहते हैं। 

2. E commerce durdir selling

आज की इस डिजिटल दुनिया में ईकॉमर्स डायरेक्ट सेलिंग बहुत तेजी से बढ़ रही है। इसमें कंपनी और ग्राहक के बीच में वेबसाइट डिजाइन होती हैं। ईकॉमर्स वेबसाइट,
जैसे_ अमेजॉन, फ्लिपकार्ट,Snapdeal  आदि। इस प्रकार की डायरेक्ट सेलिंग में ग्राहकों से ऑर्डर लेती है और कंपनी से ग्राहक तक प्रॉडक्ट पहुंचती हैं। इसमें होम डिलीवरी की सुविधा होती हैं। 

3. Delegation direct selling

इस में कंपनी ओर ग्राहक के बीच एक एजेंट होता है। इस प्रकार की कंपनी ज्यादातर रियल एस्टेट और इंसुरंस के क्षेत्र में होती हैं। इसमें एक एजेंट होता जो कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विसेस को सेल करता है। 

4.multi level marketing ( consumer direct selling)

यह डायरेक्ट सेलिंग का सबसे बड़ा पार्ट है। यह आज के समय में बहुत ज्यादा प्रचार में है, ओर इसे 21 वी शताब्दी का बिजनेस भी माना जाता है। इसमें कंपनी ग्राहक को अपना प्रॉडक्ट देती है। ओर उसे प्रॉडक्ट अच्छा लगता है तो वह सीधे ग्राहक से कहती है कि आप ही हमारे प्रॉडक्ट की मार्केटिंग कीजिए। जो ग्राहक अगले ग्राहक को उस कंपनी के प्लान ओर प्रॉडक्ट के बारे में बताते हैं उस कंपनी एक फ्रीडम डिस्टीब्यूटर बना देती हैं। इस प्रकार की कंपनी यह दावा करती हैं कि हम कभी भी अपने प्रोडक्ट ओर सर्विसेस का विज्ञापन नहीं करेंगे। आप ही हमारी कंपनी ओर प्रॉडक्ट के विज्ञापन करो।

मिलती लेवल मार्केटिंग प्लान कितने प्रकार के होते हैं।

1. Binary marketing plan
2. Tritiory marketing plan
3. Matrix marketing plan
4. Generation marketing plan

1. Binary marketing plan

आप binary प्ला न में normall अपनी आईडी से दो ही लोगो को स्पॉन्सर कर सकते हैं। एक लिफ्टओर एक राइट। इसमें हम केवल दो ही लोगो को स्पॉनसर कर सकते हैं। इसमें इनकम जोड़ो के आधार पर होती हैं। जितने आपके दोनों लेग्स में जोड़े बनेंगे उतनी ही ज्यादा इनकम होगी। मार्केट में ज्यादातर कंपनियां बाइनरी प्लान की है। जिसमें हम दो से ज्यादा लेग्स नहीं खोल सकते हैं। 
इसमें हम अनलिमिटेड इनकम नहीं कर पाते हैं। इसमें हमें दूसरे पर भी डिपेंड होना पड़ता है। 

2. Tritiory marketing plan

इस प्लान में हम तीन लेग्स अर्थात तीन लोगो को स्पॉन्सर कर सकते हैं। इस प्रकार की कंपनी मार्केट में बहुत कम देखने को मिलती है।

3. Matrix marketing plan

इस प्रकार के नेटवर्क मार्केटिंग प्लान में हम कोई भी चार लोगो को स्पॉन्सर कर सकते हैं। इसमें हम डायरेक्ट में चार ही लेग्स खोल सकते हैं। कहीं ना कहीं इसमें भी हम दूसरो पर डिपेंड रहना पड़ता है। यहां पर भी आप अनलिमिटेड इनकम नहीं कर सकते हैं।

4. Network plan ( generation marketing plan)

इस प्रकार के नेटवर्क मार्केटिंग प्लान में हम अपने डायरेक्ट में अनलिमिटेड स्पॉन्सर कर सकते हैं। इसमें हम अनलिमिटेड लेग्स खोल सकते हैं। इस मार्केट प्लान में आप किसी भी एक व्यक्ति पर डिपेंड नहीं रहते हैं । इस प्लान में इतना दम है पॉवर है कि हो बाकी के प्लान में नहीं है। दोस्तो इस प्रकार के प्लान में इनकम होने में थोड़ा समय लगता है लेकिन आप इसमें अनलिमिटेड इनकम कर सकते हैं। यहां पर आप अपना नेटवर्क चाहे जितना बड़ा कर सकते हैं। यह सब आपके ही ऊपर डिपेंड करता है। यहां पर जितनी मेहनत आप करोगे उतनी इनकम होगी।

# how to choose Right network marketing company

दोस्तो राइट नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी का चयन करने से पहले कंपनी की की प्रोफाइल देख लेना चाहिए। अगर आप नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी ज्वाइन करने की सोच रहे हैं तो आपको सही कंपनी का चयन करना बहुत ही जरूरी है। एक सही कंपनी की क्या क्या पहेचान होती हैं हम जानेंगे।

1. People and philosophy

जब आप कोई भी कंपनी ज्वाइन करते हैं तो सबसे पहले यह मत देखिए कि कमाई कितनी होने वाली है। वहा पर लोगो का कल्चर देखिए। कंपनी के पीपल और फिलासफी केसा है यह ध्यान रखना बहुत जरूरी है। उस कंपनी का क्या सिद्धांत केसा है, ओर क्या है। आपको कोई भी कंपनी ज्वाइन करने से पहले यह बात भी ध्यान रखना चाहिए कि उस कंपनी के लोगो ने कल्चर केसा है। क्या वह हर समय पैसा पैसा तो नहीं कर रहे हैं। सपने होना अलग बात है। 
में आपको निम्न टिप्स बता रहा हूं जिससे आप आसानी से सही कंपनी का चयन कर सकते हैं।
  • ट्रेनिंग पर फोकस करना।
  • कंपनी में learning and development
  • क्या आप को उस कंपनी के लोगो से मिलकर अच्छा महुसुस हो रहा या नहीं।
  • अगर कंपनी के अंदर आपकी ट्रेनिंग अच्छी हो रही है तो वह कंपनी आपको जरूर ज्वाइन कर लेना चाहिए
  • कंपनी का उद्देश्य क्या है।
  • कंपनी का सिद्धांत क्या है।
  • Govrment की गाडलाइंस में सामिल होना चाहिए।

2. Product

इस के बाद आता है प्रॉडक्ट। आपको उस कंपनी के प्रोडक्ट के बारे में जानकारी होना बहुत जरूरी है।

  • रोज काम आने वाले प्रॉडक्ट होने चाहिए।
  • ऐसा प्रॉडक्ट होना चाहिए जिसको आपको इस्तेमाल करते हुए मजा आ रहा है।
  • बहुत ज्यादा अजीबो गरीबों महंगा ना हो।
  • प्रॉडक्ट की वैल्यू हो।
  • लोग लगातार खरीदने वाले प्रॉडक्ट हो।
  • प्रॉडक्ट बार बार इस्तेमाल करने वाले हो।
  • उस प्रॉडक्ट में आपका इस्तेमाल हो।
  • वो प्रॉडक्ट कंज्यूमर बाय behaviour
  • Aane  वाली मार्केट की एडोपेशन को समझता हो।
समय के अनुसार प्रॉडक्ट में डेवलपमेंट होता रहता है
एक बात का ध्यान रखिए ऐसा वो नहीं की स्कैम बेचने वाली कंपनियां से दूर रहिए। अगर कोई कंपनी कोई कॉन्सेप्ट बेच रही है तो उसको कभी भी ज्वाइन नहीं करे।
ऐसी कंपनी भी ज्वाइन नहीं करना चाहिए जो खाली टीम बनने के पैसे देती है। अगर कोई कंपनी केवल एक ही प्रकार का प्रॉडक्ट बेच रही है तो उससे भी दूर रहे।
सबसे इंपॉर्टेंट बात प्रॉडक्ट अच्छा होना चाहिए जो आपको इस्तेमाल करते हुए अच्छा लग रहा है।

3. Plan profit and payout

अगर आपकी कम्पनी में पहले के दो पॉइंट अच्छे है तो प्लान ओर payout अच्छा ही रहेगा।
बस आपको एक दो बाते ध्यान रख लेना चाहिए जो निम्न है।
1. हर हफ्ते या फिर महीने payou हो जाना चाहिए।
2. प्लान अच्छा होना चाहिए। नेटवर्क मार्केटिंग प्लान के बारे में हम पहले बात कर चुके हैं। में तो कहना चाहूंगा आपको जेनरेशन प्लान ही चयन करना चाहिए।

#network marketing  के फायदे




  • इस इंडस्ट्री में आप अपनी सैलरी का चेक खुद लिखते हो।
  • आपका रोजगार आपके हाथों में अगर आप मेहनती है।
  • बहुत ही छोटी इन्वेस्ट के साथ बड़ा रिटर्न पा सकते हो।
  • खुद के मालिक।
  • आपकी स्किल्स improve
  • अनलिमिटेड इनकम कर सकते हैं।
  • फ्रीडम ऑफ टाइम
  • आप कहीं भी आल इंडिया या आल वर्ल्ड में अपना बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं। कोई एक अरिया सीमित नहीं है।
  • यहां पर आप बहुत सारे मित्र बना सकते हैं।
  • एक बार मेहनत करके टीम बना लो इनकम पीढ़ी दर पीढ़ी होती जाएगी।
  • आपके बाद में भी पीढ़ी दर पीढ़ी इनकम होती रहेगी।
  • इस बिजनेस में उम्र, लिंग, एजुकेशन ओर जाती का कोई महत्व नहीं रहे जाता है।
  • आप इस इंडस्ट्री में आप बहुत कम उम्र में अच्छा ज्ञान और इनकम कर सकते हैं।
  • नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी में आप अपने अनुसार काम कर सकते हैं।


Advantage of network marketing business

1. Better communication skills
2. Time management
3. Self improve
4. Helping nature
5. Team work

अब आप जान चुके होंगे कि network marketing क्या है। 

आखिर में आपको एक बात कहना चाहूंगा कि मल्टी लेवल मार्केटिंग में अगर आप तीन से पांच साल काम करते हैं तो आपको निश्चित रूप से बहुत बड़ी सफलता हासिल कर सकते हैं। ओर आपको एक बात का भी ध्यान रखना बहुत जरूरी है। की नेटवर्क मार्केटिंग कोई रातों रात अमीर बनाने का बिजनेस नहीं यहां भी आपको सफलता हासिल करने के लिए शुरुवात में बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी।
नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता के मुख्य 8 गुण।

सफल लोगो की 7 आदतें।

Conclusion

उम्मीद करते हैं आपको network marketing क्या है। इसके बारे में नेटवर्क मार्केटिंग के सारे सवाल के जवाब मिल गए होंगे। अगर आपको फिर भी कोई सवाल रहे गया है तो प्लीज कमेंट करें हम आपको अपने सवाल का जवाब जरूर देंगे। ओर अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो तो
लाइक और शेयर करने के लिए आप का प्रेम पूर्वक दिल से
धन्यवाद।

No comments:

Post a Comment