Breaking

Saturday, June 8, 2019

सफलता के 4 सूत्र। Life lessons


क्या आप अपने जीवन में सफलता चाहते हैं तो सफलता के 4 सूत्र को हमेशा याद रखें।








Hello everyone स्वागत है आप सभी का एक बार फिर से हमारी साइट पर आज के इस लेख में, में आपको सफलता के 4 सूत्र ऐसे बताऊंगा जिससे आप अपने जीवन में बड़ी सफलता और जीवन में खुशहाली ला सकोगे अगर आपने इन life lessons का अपने जीवन में पालन किया है तो।
दोस्तो सफलता सिर्फ पैसे मिल जाना या बहुत सारा पैसा कमाने का मतलब नहीं होता है। हा जीवन में पैसे होना बहुत ज़रूरी है लेकिन सिर्फ पैसे को होना ही सफलता नहीं हो सकती सबसे पहले हम जानते हैं कि सफलता किसे कहते हैं।
6 कार्य जो आपको कामयाब होने से रोकते हैं।

सफलता के 7 नियम। मोटिवेशनल टिप्स।

खुद को मोटिवेट केसे रखें।

How to become good leader


सफलता के 4 सूत्र। Life lessons



सफलता किसे कहते है।

जिसके पास समय,पैसा ,सुरक्षा ,सर्कल , चरित्र आदि होता है उसे सफलता कहते हैं। इसके अलावा satisfaction का हो उसे सफलता कहते हैं।

" उठो जागो और तब तक ना रुको जब तक लक्ष्य की प्राप्ति ना हो"

स्वामी विवेकानंद जी 

दोस्तो अगर आप अपने ज़िन्दगी में बहुत बड़ा परिवर्तन लाने चाहते हैं तो यह आर्टिकल बिल्कुल आपके लिए है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि सफलता को केसे हासिल किया जाता हैं। दोस्तो आपके अंदर भी कामयाबी का जुनून चड़ा है लेकिन आपको सही डायरेक्शन नहीं मिल रहा है तो यह आर्टिकल में वह सब है जिससे आप सफलता की उचैया छु सकते हो। अगर आप अपनी ज़िन्दगी के लिए गंभीर हो आप अपनी जिंदगी में बदलाव चाहते हो तो आप बिल्कुल सही जगह हो।
चलिए शुरू करते हैं।



# 1. दूसरे के बारे मैं सोचे।



अपनी ज़िन्दगी में बड़ी सफलता हासिल करने के लिए सबसे पहले आप दूसरो के बारे में सोचो क्यो की जो पहले दूसरो को देने के बारे मैं सोचता है ईश्वर उसकी झोली में अपार सफलतता डाल देता है। देने वाला हमेशा आगे होता है और मांगने वाला हमेशा लाइन में खड़ा रहता है। आप अपने आप से यह सवाल पुचिए की आप दूसरो को क्या दे सकते हो सर्विसेस, प्रॉडक्ट या कुछ भी क्या दे सकते हो नी स्वार्थ भाव से अगर दोस्तो आपने अपन से ज्यादा दूसरे के बारे मैं सोचने लग गए ना तो यकीन मानिए सफलता आपके पीछे पीछे चल कर आएगी। एक उदाहरण के द्वारा समझ ते है
" जब स्वामी विवेकानन्द जी यात्रा के लिए अमेरिका जाने के लिए तैयार हो गए तब उन्होंने अपनी मा शारदा से पूछा कि मा क्या में अपनी संस्कृति का प्रचार पूरी दुनिया में कर ने के लायक हू क्या में मेरी बातो से दूसरो की ज़िंदगी बदल सकता हूं। तब स्वामी जी की मां ने कहा बेटा तुम मुझे यह चाकू उठा कर दो तब स्वामी विवेकानन्द जी ने वह चाकू उठाकर अपनी मा को दिया चाकू लेने के बाद मा बोली जाओ तुम अपनी संस्कृति का प्रचार पूरी दुनिया में कर सकते हो।
यह सब देख कर स्वामी विवेकानन्द जी अचेंबित हो गए और बोले अभी तो आपने मेरी परीक्षा ही नहीं ली मा तब स्वामी विवेकानन्द जी की मां बोली जब आपने चाकू उठाया तो धार वाला हिस्सा अपनी तरफ रखा और लकड़ी वाला हिस्सा मेरी तरफ इसका मतलब आप दूसरो के बारे मैं सोचते हो अपना भला करने से पहले दूसरो के बारे में सोचने वाला इंसान कभी भी असफल नहीं हो सकता है।
इस लिए दोस्तो हमें भी स्वामी विवेकानन्द जी के द्वारा समझना चाहिए और दूसरो को आगे बढ़ाने में मदद करना चाहिए अगर आप दूसरो को आगे बढ़ाने में मदद करते हैं तो आप सफलता के बिल्कुल करीब रहते हो।



# 2. दूसरो का सम्मान करना सीखो

कामयाबी हासिल करने के लिए दूसरो का सम्मान करना चाहिए। आपको दूसरे व्यक्ति की भावनाओ, भाषा, देश,आदि का सम्मान करना आना चाहिए क्यो की आप जो सामने वाले को दोगे वही तो आपको मिलेगा, इसलिए कभी भी किसी भी व्यक्ति की भावनाओ की इज्जत करना चाहिए। दूसरो का सम्मान देकर आप अपने आप एक चरित्र वान आदमी साबित कर देते हैं। इससे सामने वाले को आपके संस्कार का भी पता चलता है। इस लिए सभी लोगो का सम्मान करना चाहिए जीवन में सफलता पाने के लिए।

# 3. सच बोलना

अगर आप को सफल होना है तो सच बोल दो गुमा फिरा कर बात मत करो। इतिहास गवाह हैं दोस्तो जिसने सच बोला और सच का साथ दिया उन्होंने अपनी ज़िन्दगी में बड़ी सफलता हासिल करी है। अगर आप लोगो से सच बोलते हैं तो लोग आपसे जुड़ने लगेंगे। आप पर विश्वास करने लगेंगे। सच को सफलता पाने में थोड़ा समय लगता है लेकिन दोस्तो सफलता बहुत बड़ी मिलती हैं।अपने  बिजनेस में या किसी भी प्रकार की सर्विसेस में लोगो को हमेशा सच बोल देना चाहिए। अगर आप अपनी जिंदगी में सच बोलना सीख गया तो दुनिया की कोई भी ताकत आपको सफल होने से नहीं रोक सकती हैं।

"माल उसी का बिकता है जो बोलता है और बार उसी का बिकता है जो सच बोलता है"

इस लिए हमेशा सच बोलकर लोगो का दिल जीत लो यारो जूठ बोलकर आप थोड़ी समय के लिए तो सफलता हासिल कर लेते हो लेकिन ज्यादा समय तक नहीं।

# 4. चरित्र वान बनो

सफलता का सबसे बड़ा रोल है अगर आपका चरित्र सही नहीं है तो आप सफलता हासिल करने के बाद उसे खो दोगे ऐसे बहुत सारे लोग हैं जिसने धन तो बहुत कमा लिया लेकिन चरित्र को ठीक नहीं किया है तो उनको वापिस मीठी में मिलना पड़ा। आपका चरित्र ही आपकी सफलता तय करता है इसलिए अपने चरित्र पर कभी भी कोई दाग मत लगने दो।
एक उदाहरण जब स्वामी विवेकानन्द जी ने अमेरिका में अपने स्पीच खतम करने के बाद वहां की एक स्त्री स्वामी विवेकानन्द जी के ऊपर मोहित हो गई और बोली कि आपसे शादी करना चाहती हूं तब स्वामी विवेकानन्द जी ने हाथ जोड़कर कहा मुझे माफ़ कीजिए में एक स्वामी हूं आपसे शादी नहीं कर सकता हूं तब वह स्त्री बोली मुझे आप जैसी संतान चाहिए तब स्वामी विवेकानन्द जी ने कहा आप मुझे हि अपना बेटा बना लो आप मेरी मां हो।
स्वामी विवेकानंद जी के इस बात से हमें पता चलता है कि उनका चरित्र कितना पवित्र था।
Morning habits of successful people in Hindi

How to find passion in Hindi

How to become a good seles Man in Hindi

5 tips positive energy बड़ाने के।

Conclusion

उम्मीद करते हैं आपको सफलता के 4 सूत्र को आप समझ पाए होंगे।
 दोस्तो आप भी अपने जीवन में सफलता और बड़ा परिवर्तन चाहते हो तो यह बताए गए टिप्स फॉलो कीजिए सफलता आपके पीछे पीछे भागी चले ना आए तो कहना लेकिन पड़ने से काम नहीं चलने वाला है इनको अपने जीवन में उतारना भी होगा तभी जाके बदलाव आएगा।
और हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताए कि यह आर्टिकल केसा लगा और आज से ही आप क्या अपने जीवन में परिवर्तन करने जा रहे हो।
ओर पोस्ट को लाइक और शेयर जरुर करना अपने सभी दोस्तो ओर रिश्तेदारों के साथ जिसे आप जीवन में कामयाब देखना चाहते हैं।
धन्यवाद।



No comments:

Post a Comment